10 August, 2010

इंग्लिश इस फन कार्यक्रम किसके लिए बनाया गया ?

अकादमिक सत्र 2010 -11 में परस्पर रेडिओ संवाद कार्यक्रम का उद्घाटन प्रसारण माननीय मुख्यमंत्री के द्वारा दिनांक 21 /07 /2010 को किया गया. यह कार्यक्रम परस्पर रेडिओ संबाद प्रणाली पर आधारित है. इस प्रणाली के माध्यम से बच्चो के साथ-साथ शिक्षको को भी अंग्रेजी भाषा सिखाई जाती है यह कार्यक्रम शिक्षक और बच्चो दोनों के लिए लाभप्रद है. इसका प्रसारण आकाशवाणी के सभी केन्द्रों एवं ज्ञानवानी के भोपाल, इन्दोर एवं जबलपुर से दोपहर 12 .00 बजे से 01 .00 बजे तक किया जा रहा है.

कटनी जिले में शालाओ के भ्रमण के दौरान पाया गया की किसी भी प्राथमिक विद्यालयों में या तो रेडियो उपलब्द्ध नहीं है या रेडिओ ख़राब पड़ा है. जहा पर रेडिओ ठीक  है वहा पर कार्यक्रम बच्चो को सुनवाया नहीं जा रहा है. सभी प्राथमिक शालाओ की समय सारिणी में कार्यक्रम के प्रसारण के समय का प्रावधान है.

रेडियो से इंग्लिश इस फन के नाम से चल रहे इस कार्यक्रम के बारे में बात करने पर जिले के समस्त  बी आर सी बगले झाकने लगते है तो फिर शालाओ के शिक्षक क्या जबाब दे पायेगे. जबकि राज्य शिक्षा केंद्र के पत्र क्रमांक/ रा शी के/आई आर आई/2010 /225 भोपाल दिनांक 16 /07 /10 द्वारा  जिला परियोजना समन्वयको को लिखे पत्र में उनसे अपेक्षा की थी की -
सभी प्राथमिक शालाओ में रेडियो की उपलब्धता  सुनिशिचित करे. इस हेतु शाला के प्रभारी एवं पालक शिक्षक संघ को इस कार्यक्रम के बारे में अवगत करे तथा शाला में रेडियो न होने  की स्थिति में क्रय नियमो के अंतर्गत रेडियो क्रय करने हेतु निर्देश प्रसारित करे.
जिले में आयोजित संकुल स्तरीय प्रशिक्षण में आवश्यक रूप से सभी शिक्षको को इस कार्यक्रम की जानकारी दे तथा कार्यक्रम की उपयोगिता के बारे में बताए.
कार्यक्रम की नियमित मानिटरिंग करे एवं यह सुनिषित करे की निर्धारित समयावधि में बच्चो और शिक्षको का रेडियो से प्रसारित कार्यक्रम सुनना एवं उसके अनुसार गतिविधिया कर रहे है.

लेकिन कटनी जिले में इस  इंग्लिश इस फन कार्यक्रम में विभाग बिलकुल भी ध्यान नहीं दे रहा है.