20 August, 2010

समितिप्रबंधक पर रिश्वत लेने का आरोप

  अखिलेश उपाध्याय

ब्रह्ताकर सहकारी समिति रीठी के समिति प्रबंधक खुले आम पैसे लेकर काम कर रहे है. हाल ही में ग्राम करहिया तहसील  रीठी जिला कटनी के मिट्ठूलाल पिता गणेश लोधी ने अपनी शिकायत में बताया की  ब्रह्ताकार सहकारी समिति रीठी में वह क्रेडिट कार्ड धारक किसान है. उसने कृषि कार्य हेतु इसी समिति से ऋण लेकर ट्रेक्टर  लिया तथा किसान क्रेडिट कार्ड की ट्रेक्टर के ऋण की किस्तों का समय पर भुगतान भी करता है.

अपने शपथपत्र में मिट्ठूलाल लोधी ने आगे लिखा है की वर्तमान में धान की खेती के लिए उसे खाद बीज एवं कुछ रुपयों की जरूरत होने के कारण समिति प्रबंधक रीठी श्री अरविन्द पाठक से निवेदन किया की उसे ऋण दिया जाये. लेकिन समिति प्रबंधक पाठक ने स्पष्ट कह दिया की उसे कोई ऋण नही दिया जा सकता है क्योकि अभी ट्रेक्टर  का ऋण बाकी है.

मिट्ठूलाल के बार-बार निवेदन करने पर समिति प्रबंधक रीठी श्री पाठक ने कहा की एक हजार उपये लगेगे. उस समय उसके  पास मात्र पांच सौ रूपये थे सो उसी समय उसने अपना काम करवाने के लिए पाठक को दे दिए. तब समिति प्रबंधक ने कहा की पांच सौ रूपये और लगेगे नही तो ऋण का दिया गया चेक केंशिल कर दिया जायेगा. 

परेशान मिट्ठूलाल लोधी ने प्रशासन से अनुरोध किया है की कृषि हेतु खाद बीज नहीं दे रहे पाठक के विरुद्ध प्रशासकीय कार्यवाही की जावे. खुले आम पैसा लेकर काम करने वाले इस समिति प्रबंधक के विरुद्ध कठोर दंडात्मक कार्यवाही की जावे एवं किसानो को अनावश्यक  परेसान न किया जावे.

मिट्ठू लाल लोधी ने प्रशासन से अनुरोध किया है की समिति प्रबंधक रीठी ने उससे जो  ऋण देने के बदले कुछ दस्तावेजो पर जबरन हस्ताक्षर करवा लिए है वे सब केंसिल किये जावे