29 August, 2010

जब सेल्स टेक्स अधिकारिओ को बंधक बनाया

अखिलेश उपाध्याय / कटनी
स्लीमनाबाद. शनिवार रात स्वील माईन्स  प्रबंधक कर्मिओ ने कर अपवंचन की छापामार कार्यवाही करने पहुची वाणिज्यकर विभाग की टीम को  रात में बंधक बना लिया गया.
अधिकारिओ ने उपायुक्त  एम् एस चौहान को फोन किया और उन्होंने एस पी कटनी से लगातार संपर्क बनाकर रखा तो टीम को रात सवाग्यारह बजे बमुशिकिल मुक्त कराया जा सका. एंटी इवेजन ब्यूरो श्री चौहान को स्वयं स्लीमनाबाद आना पड़ा.
पुलिस ने वाणिज्य कर अधिकारी जबलपुर पी एन तिवारी की रिपोर्ट स्वील माईन्स मेनेजर पुष्पराज सिंह, जयंत गोस्वामी, पोतेदार, सिक्योरिटी हेड , मिश्र, अनिल गुप्ता के विरुद्ध धारा 147 , 352 , 342 , 506 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है हालाकि अभी तक किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है.

पुलिस के मुताबिक मार्बल का खनन करने वाली स्वील माईन्स प्रबंधन के विरुद्ध वाणिज्यकर अपवंचन की शिकायतों को लेकर वाणिज्यकर विभाग जबलपुर डिप्टी कमिश्नर एम् एस चौहान ने नेतृत्व में डिप्टी कमिश्नर भोपाल पी के सिंह, वाणिज्यकर  अधिकारी नरसिंहपुर बी पी दुबे, आर एन मिश्र, आर जी स्वर्णकार जबलपुर, ऐ के श्रीवास्तव, सी एन तिवारी आदि लगभग पच्चीस अधिकारिओ की टीम ने स्वील माईन्स के गुदरी, पिपरोध, छपरा व कटनी स्थित ठिकानो पर एक साथ छापा मार कर कार्यवाही की.

बताया जाता है की जाँच के दौरान ग्यारह करोड़ रूपये के वाणिज्यकर अपवंचन का मामला सामने आया है. वाणिज्यकर टीम ने शनिवार रात की जाँच कार्यवाही में कर अपवंचन से सम्बंधित दस्तावेजो को सील करने के साथ-साथ दो कमरे व 8-10  कंप्यूटर
 भी सील कर दिए थे. अपनी जाँच कार्यवाही पूर्ण करने के बाद सीलबंद किये संदिग्ध दस्तावेजो को लेकर जब वाणिज्यकर टीम रवाना होने लगी तभी माईन्स मैनेजर पुष्पराज सिंह, जयंत गोस्वामी, पोतेदार, सिक्योरिटी हेड मिश्र, अनिल गुप्ता सहित अन्य लोगो ने दस्तावेजो और अभिलेखों को ले जाने से रोकने का प्रयास किया तथा सुरक्षा गार्ड से सभी गेट बंद करवा दिए. वाणिज्यकर अधिकारिओ की टीम को दो घंटे तक फेक्ट्री के अन्दर जबरिया ढंग से अनेक सशत्र गार्डो ने बंधक बना लिया और बाहर निकलने नही किया.

इस पर वाणिज्यकर अधिकारिओ ने आई जी एम् आर कृष्ण व एस पी मनोज शर्मा को मोबाईल पर सम्पूर्ण घटनाक्रम से अवगत
 कराया. इसके बाद टी आई एम् पी पौराणिक, कुठला टी आई राजपूत, एस आई बाजपेई,अवध दुबे, केशव दुबे, दीनदयाल दुबे आदि बल सहित फेक्ट्री पहुचे और वाणिज्यकर अधिकारिओ को मुक्त कराकर फेक्ट्री से रात 11 .45 बजे बाहर निकला सभी वाणिज्यकर अधिकारी स्लीमनाबाद पुलिस थाने पहुचे जहा चार घंटे की जद्दो जहद के बाद अंततः माईन्स प्रबंधन के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज की जा सकी. सुबह पांच बजे वाणिज्यकर टीम अपने गंतव्य की ओर रवाना हो सकी.

थाने में लगा रहा जमघट
रात में ही गुदरी में मीदिअकर्मी पहुचे तो माईन्स प्रबंधको ने उन्हें गेट के बाहर रोक दिया और उनसे भी अभद्रता की गई. मौके पर पीली बत्ती गाडी में पहुचे राजस्व व पुलिस अधिकारिओ को भी गेट के बाहर एक घंटे तक रोक दिया गया.
जिला प्रशासन को कमजोर पकड़ते देख जबलपुर से एंटी इवेजन ब्यूरो के डिप्टी कमिश्नर एम् एस चौहान रात बारह बजे तक स्लीमनाबाद पहुचे. उस समय कामर्सिअल टेक्स की टीम, राजस्व अधिकारी सभी थाने में मौजूद थे. माईन्स प्रबंधन  ने गुदरी में स्लीमनाबाद टी आई को एक आवेदन किया की वाणिज्यकर टीम ने अभद्र व्यवहार किया. इनके खिलाफ रिपोर्ट की जाए. कंपनी प्रबंधन का कोई भी प्रतिनिधि रिपोर्ट कराने थाने नहीं आया. स्लीमनाबाद पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने की कार्यवाही में सबेरा कर दिया. सुबह पांच बजे अधिकारी अपने घर लौट सके.

प्रबंधको के हाथो की कठपुतली बनी कटनी पुलिस
इस सम्बन्ध में एम् एस चोहान एंटीविजन ब्यूरो ( उपायुक्त) ने कहा- हमने तीन पेटी कागजात जब्त किये  है, सम्भावना है एक बड़ी कर चोरी जाँच में सामने आयेगी. आवश्यकता होने पर आयकर व एक्साइज विभाग को भी जाँच के लिए कागजात उपलब्द्ध करायेगे. यहाँ की पुलिस ने शासकीय कार्य कर रही सर्वे टीम को सहयोग नहीं दिया. इनकी भी शिकायत उच्चाधिकारियो को दी जायेगी.