09 September, 2010

कैसे बनवाए बिना दलालों के लाईसेंस

अखिलेश उपाध्याय / कटनी

कटनी. वाहन चलने के लिए लाइसेंस आवश्यक है लेकिन लाइसेंस बनवाने केलिए आवेदको को काफी मुस्किलो का सामना करना पड़ता है. एजेंटो   द्वारा आवेदको से चार गुना तक पैसा वसूल किया जाता है. लेकिन आसानी से लाईसेंस बनवाने के लिए आवेदको द्वारा एजेंटो का सहारा लिया जाता है. जिससे उनका काम जल्दी और सुगमता पूर्वक हो जाए. लाइसेंस का काम तो आसानी से हो जाता है लेकिन इसके लिए आवेदको को अपनी जेब हलकी करना पड़ती है. जिसके चलते परिवहन विभाग के लाइसेंस शाखा में एजेंटो की संख्या बढ़ती जा रही है.
परिवहन विभाग में कटनी जिले में आसानी से लाईसेंस बनवाने के लिए आवेदको द्वारा एजेंटो का सहर लिए जाता है जिसके चलते एजेंटो से लाईसेंस बनवाना महंगा हो गया है.

सामान्य से ज्यादा खर्च
एजेंटो से लाईसेंस बनवाने के लिए आवेदको को सामान्य से ज्यादा खर्च वहां करना पड़ता है. सामान्यतौर पर लर्निंग लाईसेंस बनवाने के लिए जो खर्च आता है वह देखा जाए तो बहुत कम है लेकिन एजेंटो द्वारा आवेदको से चार से पांच गुना पैसा बसूल किया जाता है. पैसे के बदले में एजेंटो द्वारा आवेदको को आसानी से लम्बे लाइन में लगे बिना ही सारा काम करा दिया जाता है. और तो और पक्के लाईसेंस के लिए जो फोटो खिचवाया जाता है उसमे भी इन आवेदको का नंबर जल्दी आ जाता है.

कितना है सामान्य खर्च
लर्निंग लाइसेंस बनवाने के लिए आवेदको को सामान्यतौर पर सत्तर रूपये का खर्च आता है. इस खर्च में दो श्रेणी के तहत लर्निंग लाइसेंस बनता है जिसमे दुपहिया और चार पहिया शामिल है. साथ ही चालीस रूपये के खर्च में बिना गैर या केवल दुपहिये का लर्निंग लाइसेंस बन जाता है. लाइसेंस बनवाने के लिए आवेदक को एक फार्म भरना पड़ता है और साथ ही मांगी गई जानकारी और कागजो की फोटो कापी लगाना पड़ती है.

क्या है प्रक्रिया
आवेदक द्वारा फार्म भर के जमा करने पर आवेदक को लर्निंग लाईसेंस की परीक्षा देना का मौका मिल जाता है, इसके बाद केबीसी सिस्टम द्वारा परीक्षा में पास होने पर आवेदक को लर्निंग लाईसेंस मिल जाता है. लाईसेंस मिल जाने के बाद आवेदक को एक महीने के बाद पक्के लाईसेंस बनवाने के लिए ड्राईविंग टेस्ट देना पड़ता है जिसमे पास होने के बाद आवेदक का पक्का लाईसेंस मिल जाता है. पक्का लाईसेंस बनवाने के लिए आवेदको को तीन सौ रूपये खर्च करना पड़ता है, लेकिन बिना दुपहिया लाईसेंस के लिए २५० रूपये खर्चा करना पड़ता है

एजेंटो द्वारा बसूली
लाईसेंस बनवाने के लिए एजेंटो द्वारा सामान्य से ज्यादा पैसा आवेदको से बसूल किया जाता है. एजेंटो द्वारा आवेदक देख कर पैसे की मांग की जाती है. एजेंटो द्वारा आवेदको से कम से कम एक हजार रूपये से लेकर पंद्रह सौ रूपये तक बसूल लिए जाते है. साथ ही कोई अच्छा आ जाता है तो एजेंटो द्वारा दो हजार रूपये तक बसूल किये जाते है. जिसे बाद भी एजेंटो दारा आवेदको को कई प्रकार की सुविधा भी मुहैया कर दी जाती है जिसके चलते आवेदको एजेंटो से लाईसेंस बनवा लेता है.