13 October, 2010

चार साल से अपडेट नहीं हुई बेवसाईट

अखिलेश उपाध्याय / कटनी
शासन की ओर से वर्ष 2005 में समस्त विभागों में सूचना के अधिकार अधिनियम को लागू कर दिया गया है. अधिनियम को लागू होने के साथ ही शासन के सभी विभागों को शासन के पोर्टल पर अपनी वेब साईट विकसित करने के निर्देश दिए गए है. इस साईट में सभी विभागों के लोक सूचना अधिकारी और अपीलीय अधिकारिओ की जानकारी प्रदर्शित की गई है लेकिन कटनी जिले के अधिकतर विभागों ने अपनी जानकारी को पोर्टल पर अपडेट नहीं किया है.इतना ही नहीं कुछ विभाग तो ऐसे भी है जिन्होंने अपना ब्यौरा तक साईट पर प्रदर्शित नहीं किया है.

अधिनियम के रूप में पारित सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 के प्रति अधिकारी कर्मचारी बहुत उदासीन है. जिले के 54 विभागों में से किसी भी विभाग की साईट पर जानकारी अपडेट नहीं है. जबकि विभागों को नियमित रूप से सूचना का अधिकार के अंतर्गत अपनी जानकारी विभाग के पोर्टल पर डालनी चाहिए थी. कटनी जिले की साईट  पर शासकीय विभागों की कोई भी जानकारी न पाकर लोगो को परेशानी का सामना करना पड़ता है.

जिला पंचायत विभाग
इस विभाग ने अपने साईट को वर्ष 2007 के बाद से अपडेट  नहीं किया है. जिले के लोगो को छोटी-छोटी जानकारी के लिए जिला पंचायत कार्यालय के चक्कर काटने पड़ते है. फिर उन्हें सम्बंधित बाबू सिवाय घुमाने के और कुछ नहीं करते.

शायद कटनी जिले के अधिकारी पोर्टल पर जानकारी न देकर लोगो को जिले में चल रहे घोटाले से दूर ही रखना चाहते है.