23 November, 2010

एस पी को आवेदन के साथ पचास का नोट दिया

कटनी / सरकारी कार्यालयों में काम के बदले दाम अब शिस्टाचार बन गया है. ऎसी ही मानसिकता लिए अपने ससुराल से प्रताड़ित 29 वर्षीय महिला दुर्गाबाई  बीते मंगलवार को जनसुनवाई के दौरान ससुराल के विरुद्ध अपनी शिकायत का आवेदन लेकर पुलिस अधीक्षक मनोज शर्मा के पास पहुची.
अपने आवेदन के साथ पचास का नोट यह कहते हुए बढाया की साहब यह चाय-पानी के लिए रख लो लेकिन आप मेरा यह काम करा दो मै बहुत परेशान हूँ. यह देख सुनकर पुलिस अधीक्षक श्री शर्मा सहित वहा मौजूद सी एस पी राजेश तिवारी और पत्रकारवर्ग  भौचक्के रह गए.
आश्चर्य मिश्रित माहौल में सीएसपी श्री तिवारी ने दुर्गाबाई  को डांट के लहजे समझाया भी लेकिन महिला ने लगभग गिडगिडाते हुए यही बात फिर से दुहराई.
इस पर पुलिस अधीक्षक श्री शर्मा ने महिला को समझाया और कहा आपको ऐसा नहीं करना व कहना चाहिए था. हम आपके आवेदन पर कार्यवाही करेगे, आपके पति और सास को बुलाकर उनसे भी पूछा जायेगा. जो भी उचित और पुलिस के दायरे में होगा वह हम करेगे.
वर्तमान में राबर्ट लाइन कैम्प कुम्हार मोहल्ला में रहने वाली दुर्गाबाई  ने बताया की दहेज़ की मांग को लेकर उसके पति नारायण पटेल व सास मैगी बाई (निवासी खिरहनी) ने मारपीट कर उसे घर से बाहर निकालते हुए बच्चो को छुड़ा लिए जाने एवं जान से मारने की धमकी दी है. अपने आपको असुरक्षित महसूस कर रही दुर्गा ने श्री शर्मा से अपने घर (ससुराल )  में वापस रखवाने का निवेदन किया है.