21 November, 2010

रोजगार पाने वालो की संख्या दिन प्रतिदिन घटती जा रही है !

कटनी / जिले में संचालित रोजगार गारंटी योजना भ्रस्टाचार की भेट चढ़ गई है. भ्रस्टाचार के मामले आये दिन अखबारों एवं जनसुनवाई के मध्यम से जिला प्रशासन के sangyan   में लाये जाते है लेकिन इसके बावजूद भी सम्बंधित विभाग के अधिकारी कर्मचारियों पर नकेल नहीं कसी जा सकी है. केंद्र सरकार की इस महत्वपूर्ण योजना में फैली गड़बड़ी के कारण पिछले तीन सालो में रोजगार पाने वालो की संख्या दिन प्रतिदिन घटती जा रही है और मजदूरों का पलायन badh   रहा है.
सरकारी आकड़ो में पिछले तीन सालो में जिले भर के लाखो लोगो के जाब कार्ड बनाये गए है लेकिन इनमे से सौ दिन का रोजगार बहुत कम लोगो को दिया गया है. योजना शुरू हो jane   के बाद साल दर साल रोजगार पाने वालो की संख्या कम होती चली जा रही है. रोजगार गारंटी में काम नहीं मिलने से हर sal  हजारो की संख्या में ग्रामीण क्षेत्र के लोग महानगरो में पलायन कर रहे है. कागजो में जिले की ग्राम पंचायतो में हजारो की संख्या में काम प्रगति पर है लेकिन सवाल यह है की जब लोगो को काम नहीं मिला है तो फिर काम कौन कर रहा है...?
जब  गिने चुने मजदूर ही सौ दिन का काम कर रहे है फिर तो मतलब साफ़ है की ग्रामीणों को समय पर भुगतान नहीं होने से वे केवल एक बार ही योजना में काम कर असलियत समझ जाते है. बाद में उनकी काम में रूचि नहीं रहती. इसलिए हजारो की संख्या में सालो पूर्व शुरू कार्यो के रिकार्ड में अधूरे होने के कारण ही जिले को naveen  कार्यो के liye paryapt bajat  नहीं mil pa रहा है. काम अधूरे rahne से काम karne vaale  लोगो के आकड़ो पर भी sandeh उठता है.