28 November, 2010

आर ई एस में मचा भ्रष्टाचार

अखिलेश उपाध्याय
कटनी /  जिले में कहते है कलेक्टर एम् शेल्वेंद्रण  बड़े ईमानदार अधिकारी है फिर भी यहाँ व्याप्त भ्रस्टाचार को रोक पाने में असमर्थ है. एक दक्षिण भारतीय का जिले  में कलेक्टर बनकर आना लोगो को उम्मीद लेकर  आया था की शायद अब उन्हें न्याय मिल पायेगा लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ.

जिले में कानून और व्यस्था जैसी कोई भी स्थिति नजर नहीं आती. शिकायतों पर यहाँ महीनो बीतने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जाती.

जिले में चल रहे बड़े निर्माण कार्य इस समय आर ई एस के द्वारा कराये जा रहे है. इन कार्यो  में नियम कायदे दरकिनार कर ठेकेदार मनमानी कर रहे है तथा  इंजिनीअर अपना कमीशन लेकर मौज कर कर रहे है.

ऐसा ही कुछ वाकया जनपद पंचायत रीठी में हाईस्कूल भवन के निर्माण कार्य में हो रहा है.


जनपद पंचायत रीठी की अध्यक्ष प्रीति सिंह ने एक लिखित शिकायत में कलेक्टर को निर्माण कार्य में के जा रही गड़बड़ियो से अवगत कराया उन्होंने अपने पत्र में लिखा  है की बिलहरी में बन रहे हाईस्कूल भवन में ठेकेदार एस के शर्मा एवं आर ई एस के इंजिनीअर द्वारा सिविल इंजिनीअरिंग के नियमो को ताक पर रखकर काम किया जा रहा है.


बी आर जी ऍफ़ मद से बन रहे तीस लाख की लागत के इस भवन में ठेकेदार और इंजिनीअर लोहे में बड़ा खेल कर रहे है. निम्न स्तर का घटिया तथा कम लोहा लगाया जा रहा है.


ईट, रेट, सरिया  भी घटिया ही लगाईं जा रही है.


जनपद अध्यक्ष प्रीति सिंह ने कलेक्टर से इस भवन निर्माण में की जा रही अनियमितताओ पर तत्काल रोक लगाने के लिए लिखा है


इस भवन में लगाई जा रही खिड़की तथा दरवाजे भी कम वजन के तथा हलके चद्दर के लोहे का इस्तेमाल के लगाये गए है.

ज्ञात हो की एस के शर्मा नाम का यह ठेकेदार आर ई एस के एक इंजिनीअर का रिशेतेदार है और इसके द्वारा बनायी गई सभी बिल्डिंग घटिया स्तर की बनाई गई है.


रीठी हाईस्कूल प्रांगन में बनाई जा रही बिल्डिंग भी इसी ठेकेदार द्वारा बनाई जा रही जो एक जाँच का विषय है.