10 January, 2011

मध्य प्रदेश शासन लोक निर्माण विभाग कटनी में बैठे आला अधिकारी चैन की बंशी बजा रहे है तभी तो उन्हें क्षेत्र में सच्चे जनप्रतिनिधि की जानकारी तक नहीं है. ऐसा ही एक नजारा विगत दिनों  देखने में आया.

बात है तिलगवा-बाधा-मगरधा (सात किलोमीटर) रोड  के भूमिपूजन की. इस भूमि पूजन में लगाए गए शिलालेख में पी डब्लू डी विभाग के कर्मचारियों ने या तो अनदेखी कर दी है या फिर ठेकेदार ने अपनों को खुश करने के लिए सोच समझकर यह भी ध्यान नहीं रखा की कौन जनप्रतिनिधि है और कौन नहीं.

इस शिलालेख में जो नाम लिखे गए है उनमे विधायक निशीथ पटेल के अलावा दूसरे लोगो के नाम समझ से परे है. इसमें  नरेद्र राय ब्लाक कांग्रेस कमिटी अध्यक्ष, जगदीश प्रसाद पाण्डेय विधायक प्रतिनिधि, कैलाश वर्मा सरपंच बिलहरी, सुदीप तिवारी एडवोकेट, सतेन्द्र सिंह भदोरिया विशिष्ट अतिथि की उपस्थिति में दिनांक 08 .01 .2011 दिन शनिवार को यह भूमि पूजन संपन्न हुआ.

पी डब्लू डी विभाग या ठेकेदार शायद भूल गया सांसद, जिला पंचायत अध्यक्ष, जनपद पंचायत अध्यक्ष, जनपद पंचायत उपाध्यक्ष, जनपद सदस्य को. गौरतलब है की वर्तमान में बिलहरी की सरपंच आशा वर्मा है न की कैलाश वर्मा और जितने भी नाम लिखे गए है वे सभी या तो ठेकेदार के करीबी व्यक्ति है या फिर विधायक के इर्द गिर्द रहने वाले लोग है.

पी डब्लू डी विभाग के इंजिनियर लगता है स्थल पर निरीक्षण करने नहीं आते क्योकि इतनी बड़ी गलती क्षेत्रीय जनता के गले नहीं उतर रही. लोगो में आक्रोश है की आखिर ठेकेदार द्वारा लगाया गया यह शिलालेख गलत व्यक्तियों के नाम के साथ क्यों  और कैसे लगाया गया ?