16 February, 2011

नहीं देख पायेगे मैच


नहीं देख पायेगे मैच
यु तो क्रिकेट बर्ल्ड कप का जूनून हर भारतीय के सर चढ़कर बोल रहा है पर शायद ग्रामीण क्षेत्र के निवासियों के नसीब में बर्ल्ड कप के मैचो का सीधा प्रसारण देखना नहीं लिखा है क्योकि यहाँ दोपहर बारह बजे से शाम सात बजे तक मैराथन बिजली कटौती रहती होती है. अब यदि मैच दिन में हुए तो सिर्फ आरंभिक दो घंटे यानी दोपहर बारह बजे तक ही मैच देखना संभव होगा और बाकी का हाल अन्य शहरो में अपने परिचितों से मोबाइल पर ही जानना होगा, और यदि मैच दिन रात का हुआ तो भी देखने नहीं मिलेगा क्योकि रात को 9 .30  बजे के बाद फिर  से बिजली चली जाती है.

बिजली की इस बेरहम कटौती से खेलप्रेमी निराश है, लेकिन विद्युत् वितरण कंपनी के कटौती प्लान के आगे विवश भी है. क्योकि जो वितरण कंपनी विद्यार्थियों को पढने के लिए शाम 6  बजे से बिजली नहीं दे पा रही वह कंपनी खेल देखने के लिए भला क्यों बिजली  देगी ?