19 February, 2011

बच्चो में पनप रहा गुटखा शौक

विद्यार्थियों पर गुटखा पाउच संस्कृति जबरदस्त तरीके से हावी हो रही है. लुभावने विज्ञापन और फैशन के प्रभाव में लड़के ही नहीं, लडकिया भी तम्बाकू युक्त धीमा जहर गटक रही है. स्कूलों एवं कालेजो में रोजाना पाउचो का कचरा बड़ी मात्रा में निकल रहा है.

शहर ही नहीं अंचल में भी तम्बाकू युक्त गुटखा चबाना फैशन बनता जा रहा है. स्कूलों में भी गुटखा संस्कृति बढ़ती जा रही है. अब तो लडकियों में इसकी लत होना आम बात हो गई है. लोग बैठे बिठाए अनेक बीमारियों को दावत दे रहे है.

देखा जाए तो शहर की अपेक्षा  ग्रामीण क्षेत्र में गुटखा खाने  वाले बच्चो की संख्या तेजी से बढ़ रही है. स्कूल कक्षों के अलावा मैदानों में व कमरों के आसपास बिखरे रंग बिरंगे पाउच के खाली पाउच  हकीकत बाया कर रहे है. पालक बच्चो की इन हरकतों पर ध्यान नहीं देते है.