28 September, 2011

कलेक्टर ने टोपी पहनने से किया इनकार

नहीं मिली टोपी पहनाने  की अनुमति
धरने पर बैठे इंडिया अगेंस्ट करप्शन के सदस्य 
अखिलेश उपाध्याय / कटनी 

इंडिया अगेंस्ट करप्शन के सदस्यों द्वारा भ्रष्टाचार के विरोध में स्टेशन चौराहे से  एक रैली कलेक्ट्रेट के  लिए निकाली गई. इंडिया अगेंस्ट करप्शन ग्रुप के लोगो ने जब कलेक्ट्रेट में विभाग प्रमुखों को टोपी पहनाने की ईजाजत मांगी तो उन्हें ओमती  नहीं मिली . कलेक्टर एम् सेल्वेंद्रण ने भी टोपी पहनने से इंकार कर दिया. इधर टोपी पहनाने आये इंडिया अगेंस्ट करप्शन के सदस्य इस बात से बिफर पड़े और कलेक्ट्रेट द्वारा  पर धरने पर बैठ गए. हलाकि यह गाँधीटोपी  गाँधीवादी तरीके से आन्दोलन का रास्ता सिखाती है लेकिन फौरी तौर पर इंडिया अगेंस्ट करप्शन के लोग काफी आक्रोशित दिख रहे थे.

क्या है मामला
टोपी का यह मामला दरअसल तब शुरू हुआ तब कलेक्टर से मिलने इंडिया अगेंस्ट करप्शन ग्रुप के लोग पहुचे इन लोगो ने पहले तो  यहाँ एक ज्ञापन दिया आठ ही कलेक्टर को टोपी भी भेट की जिसे उन्होंने लेने से इनकार कर दिया. यही नहीं इंडिया अगेंस्ट करप्शन ग्रुप के सदस्य धरने पर बैठ गए.


नहीं दी जा सकती अनुमति 
इस मसले पर कलेक्टर एम् सेल्वेंद्रण ने कहा की ग्रुप के कुछ लोग उनसे मिलने आये थे. ग्रुप के सदस्य विभाग प्रमुखों को टोपी भेट करना चाहते थे. लेकिन सरकारी नियमो के कारण इस तरह की अनुमति नही दी जा सकती. सदस्यों को बताया गया की विभागों में अधिकारी से मिलने अथवा बात करने या ज्ञापन देने पर कोई पाबन्दी नहीं लेकिन टोपी आदि भेट कर्णकरने  की अनुमति नहीं दी जा सकती.