31 October, 2011

पेंशन के इंतजार में तीन निराश्रित वृद्धों ने तोड़ा दम

बहोरीबंद, बहोरीबंद
जनपद क्षेत्र की अनेक ग्राम पंचायतों
में निराश्रित वृद्धों को कई कई महीने
वृद्धावस्था पेंशन नहीं मिल पाती
जिससे इन निराश्रित वृद्धों को एक
वत की रोटी के लिये भी भीख
मांगने को मजबूर होना पड़ रहा।
बताया गया कि ग्राम पंचायत चांदन
खेड़ा में पिछले चार- पांच महीने से
वृद्धावस्था पेंशन नहीं मिली। पेंशन
राशि पंचायत को प्राप्त हो जाने के
बावजूद सरपंच द्वारा उत राशि
डाकघर में जमा नहीं कराई जाती।
ग्रामीणों ने बताया कि पेंशन राशि के
इंतजार में यहां पिछले दो तीन महीनों
में गोपाली बर्मन, कस्तूरी विश्वकर्मा
एंव सुशीला बाई नामक तीन निराश्रित
वृद्धों की मौत हो चुकी है। सीईओ
जनपद एवं एस.डी.एम. का ध्यान इस
ओर आकृष्ट कराया गया है।